तारों का जीवन और मृत्यु

परिचय

(टोकन सौंदर्य की फोटो)

जब मैंने सीखे हुए खगोल विज्ञानी के बारे में सुना,

जब सबूत, मेरे सामने स्तंभों में आंकड़े लगाए थे,

जब मुझे चार्ट एवं डायग्राम दिखाए थे,

जोड़ने, विभाजित करने एवं मापने हेतु,

मैंने जब व्याख्यान कक्ष में बैठकर खगोल विज्ञानी को सुना, जहां उसने व्याख्यान दिया

व्याख्यान कक्ष में बहुत तालियों के साथ,

शीघ्र ही में रहस्यमयी तरीके से थक गया तथा बीमार पड़ गया,

उठने एवं बाहर फिसलने तक मैं अपने आप से दूर भटक गया

रहस्यमयी नम रात की हवा में,

तथा समय समय पर

तारों में खूबसूरत शांति देखी।

वाल्ट ह्विटमैन

 

श्रीमान ह्विटमैन की स्थिती पूर्ण रूप से उस साधारण व्यक्ति के समान है, जिसने खगोल विज्ञान के बारे में जानकारी हेतु इंटरनेट पर इसको सर्च किया है।  बहुत ही शानदार फोटोज से भरी “जी, वाह” प्रकार की साइटों को सर्च करना आसान है तथा विज्ञान भी इतने शानदार तरीके से जल में डूबा है कि यह सिर्फ पुतली हेतु ही उपयुक्त है।  एवं यह लगभग गणितीय होमवर्क समस्याओं के विस्तृत समाधान के साथ महाविद्यालय स्तर के व्याख्यान नोट्स को सर्च करने जितना आसान होता है।

मैं नॉर्थवेस्टर्न विश्वविद्यालय में भौतिकी एवं खगोल विज्ञान 1989 से पढ़ा रहा हूं (इसलिए मैं कविता में “सीखे हुए खगोल विज्ञानी” के रूप में अर्हता रखता हूं), तथा मैंने सोचा कि निश्चित ही इन चरम सीमाओं के मध्य मजबूती से स्थित कुछ पृष्ठों के लिए वेब पर स्थान था।  यह साइट इसका नतीजा है। यह एक विस्तृत रूप से आसानी से तारों के विकास के स्तर को समझने के लिए चर्चा करता है। स्पष्टतया, यह साइट ब्राउज करने के लिए नहीं बनाई गई है। यह पढ़ने के लिए बनाई गई है। साइट पर ब्राउजिंग करना वहां तक ठीक है, अगर आप कुछ फैक्ट्स जानना चाहते हैं, परन्तु यदि आप सच में किसी विषय को समझना चाहते हैं, तो आपको इसे शुरू से लेकर अंत तक अध्ययन करना पड़ेगा, तथा यह वेबसाइट किस बारे में है, यह समझना है।  मैं एक टीचर हूं। मैं कोई क्विज़-शो होस्ट नहीं कर रहा हूं। वेबसाइट फुटनोट्स एवं लिंक्स से भरी है जिसे आप चाहें तो स्किप कर सकते हैं, परंतु यह आपको आवश्यकता पड़ने पर बहुत जरूरी विवरण और चर्चा प्रदान करते हैं। आप सिर्फ मुख्य आख्यान पढ़ सकते हैं, तथा सूचना का निष्कर्ष ले सकते हैं, अथवा सभी स्वगत कथन भी पढ़ सकते हैं तथा प्रशांत की खगोल भौतिकी सोसाइटी की अगली वार्षिक बैठक में पोस्टर सत्र के माध्यम से अपना फेक रास्ता बनाने के लिए तैयार हो सकते हैं। पसंद आपकी है।

पूरी इस साइट में, मैंने इस सिद्धांत का अनुसरण किया है कि सरलीकृत करना एवं सरल के बीच एक बड़ा फर्क होता है। इसका मैंने बहुत प्रयास किया है कि लोकप्रिय खगोल विज्ञान के कुछ बोरिंग क्लीषे को यहां पर दोहराऊं नहीं, इसलिए नहीं कि वे क्लीषे हैं, परंतु इसलिए कि वे स्पष्ट रूप से गलत हैं। सरलीकरण सही है, परंतु जब यह इस बिंदु पर पहुंच जाता है कि सादगी सरल होने के बजाय सीधी-साधी है, तो विवरण के बारे में बात करना शुरू करने का वक्त है, तथा मैं करता हूं।

परिचय के लिए इतना काफी है; अब खगोल भौतिकी के बारे में बात करने की शुरूआता करते हैं!   पहले पृष्ठ पर जाएं

डेविड टेलर
इवान्स्टन, IL
जून, 2012

d-taylor2@northwestern.edu

मूल स्रोत: https://faculty.wcas.northwestern.edu/~infocom/The%20Website/

Published
Categorized as Hindi